Connect with us

एक्सक्लूसिव

Assembly Election 2019: हरियाणा, महाराष्ट्र में किसका पलड़ा भारी, कौन बनेगा किंग?

Published

on

(Maharashtra) और हरियाणा (Haryana) विधानसभा चुनाव अब नजदीक हैं. यहां 21 अक्‍टूबर को वोट डाले जाएंगे. 24 को नतीजा आएगा. 27 काे दीपावली है. इस वक़्त इन दोनों राज्‍यों में इस वक्‍त भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार है. दोनों में उसका पलड़ा भारी है. लेकिन बड़ा सवाल यह है कि क्या पार्टी इन राज्यों में फिर से अपने दम पर सरकार बना पाएगी. आखिर किसकी दीवाली मनेगी?

पार्टी के कई बड़े नेताओं का कहना है कि महाराष्ट्र और हरियाणा में मौजूदा मुख्यमंत्रियों के चेहरे को ही आगे करके चुनाव लड़ा जाएगा. दोनों सीएम एक राउंड की अपनी चुनावी यात्राएं पूरी कर चुके हैं. 2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Polls) के बाद राज्यों की सत्ता हासिल करने की यह जंग अब और दिलचस्प होने वाली है.

                                                                                                                महाराष्ट्र विधानसभा

ये दोनों राज्य राजनीतिक रूप से काफी महत्वपूर्ण हैं. हरियाणा और महाराष्ट्र में कभी कांग्रेस का शासन हुआ करता था, लेकिन दोनों राज्यों में वो इस वक्त हाशिए पर है. कांग्रेस के नेता आपस में ही लड़ रहे हैं. फिर भी इन दोनों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच टक्कर है. महाराष्ट्र में कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) सीटों के बंटवारे के मामले में बीजेपी-शिवसेना (Shiv Sena) से आगे हैं. लेकिन हरियाणा में वही कांग्रेस आपसी सिर फुटव्वल से अभी तक पार नहीं पा सकी है.

इन दोनों राज्यों में विधानसभा की कुल 378 सीटें हैं. जिनमें से 183 पर बीजेपी विधायक हैं. जबकि कांग्रेस के पास सिर्फ 51 सीटें हैं. दोनों राज्यों में सत्ताधारी पार्टी को पीएम नरेंद्र मोदी के चेहरे पर ज्यादा भरोसा है. मोदी लहर के भरोसे ही यहां पार्टी मैदान जीतने की उम्मीद कर रही है. पीएम मोदी पिछले एक माह में दोनों राज्यों में दौरा कर चुके हैं.

राजस्थान, मध्य प्रदेश जैसा तो नहीं होगा हाल?

दिसंबर 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी अपनी सरकार गंवा चुकी है. हालांकि, लोकसभा चुनाव में उसने जबरदस्त वापसी करते हुए कांग्रेस का सूपड़ा साफ कर दिया था. फिर भी पार्टी हरियाणा, महाराष्ट्र में होने वाले चुनाव को अति आत्मविश्वास में नहीं लड़ेगी. इसलिए तैयारियों में कोई ढील नहीं दी जा रही.

महाराष्ट्र का राजनीतिक गणित

महाराष्ट्र में बीजेपी का शासन है. जिसे देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) चला रहे हैं. 288 सीटों वाले प्रदेश में बीजेपी के पास 135 विधानसभा सीट हैं. वहीँ उसकी सहयोगी शिवसेना के पास 75, विपक्षी दल कांग्रेस के पास 34 और एनसीपी के पास 31 सीट हैं. एक तरफ ना-नुकुर करते-करते बीजेपी और शिवसेना ने लोकसभा चुनाव एक साथ लड़ा. जिसमें बीजेपी ने 23 और शिवसेना ने 18 सीटें जीतीं.

शिवसेना का गणित

लेकिन विधानसभा की सीटों पर शिवसेना बराबर-बराबर हिस्सेदारी पर लड़ना चाहती है. लोकसभा चुनाव में एनसीपी ने 4 सीटें जबकि कांग्रेस ने सिर्फ एक सीट हासिल की थी. ऐसे में यहां पावरफुल गठबंधन बीजेपी-शिवसेना का ही है. हार की निराशा में घिरी कांग्रेस के लिए यहां चुनाव की डगर काफी कठिन नजर आ रही है. और हो भी क्यूँ ना, क्यूंकि यहाँ पर भी कांग्रेस ने ना तो नया युवा चेहरा लांच किया हैं, और ना कोई बड़ी महिला नेता |

हरियाणा की सियासत में कौन कहां?

हरियाणा में विधानसभा की कुल 90 सीटें हैं. पिछला चुनाव अक्टूबर 2014 में हुआ था. बीजेपी ने यह चुनाव बिना चेहरे के लड़ा था. पीएम नरेंद्र मोदी की अगुआई में बीजेपी ने कांग्रेस के गढ़ रहे इस प्रदेश में कुल 47 सीटें जीतीं और पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई. जींद उप चुनाव जीतने के बाद बीजेपी के पास 48 विधानसभा सीट हो गईं. 2014 में आरएसएस प्रचारक मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) को सीएम बनाकर बीजेपी ने पहले से जमे जमाए नेताओं को चौंका दिया था.

हरियाणा विधानसभा

फिलहाल तो मनोहरलाल खट्टर के नेतृत्व में हरियाणा की सभी 10 लोकसभा सीटें बीजेपी की झोली में आ गई हैं. इसलिए दिल्ली के केंद्रीय दरबार में उनके नंबर ठीक-ठाक ही बताए जाते हैं.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर

लेकिन अभी मनोहर लाल जी की वार्षिक परीक्षा हैं, क्यूंकि बीजेपी ने यहां पर 75 से अधिक सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. 2014 में कांग्रेस के पास 17 और इनेलो की 19 सीटें थीं.

पांच निर्दलीय और एक-एक बहुजन समाज पार्टी, शिरोमणि अकाली दल के विधायक चुने गए थे. हालांकि, इस समय इनेलो के 10 वर्तमान विधायक बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. जबकि जन नायक जनता पार्टी में शामिल हुए 4 विधायक अयोग्य घोषित कर दिए गए हैं. इनेलो के पास सिर्फ तीन विधायक बचे हैं.

अब देखना ये है कि आज से शुरू हो रही सत्ता की नई जंग में कौन कहां खड़ा होगा.

अभिषेक लोहिया एक इंजीनियर टर्न्ड पत्रकार हैं, ब्लिट्ज इंडिया के संस्थापक सदस्य और SEO Head हैं | स्पोर्ट्स के अलावा अभिषेक अंतरराष्ट्रीय राजनीति और टेक्निकल पहलुओं पर लिखना पसंद करते हैं | अभिषेक काफी आरटीआई भी भरते रहते हैं और इसके साथ कई आन्दोलनों में भी सक्रिय रहे हैं | अभिषेक का ट्विटर हैंडल @ChiragLohia2 हैं|

हेल्थ

लाइफस्टाइल3 weeks ago

दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूल बने डेंगू अभियान का हिस्सा

नई दिल्ली, ब्लिट्ज ब्यूरो। दिल्ली में गरीब हो, अमीर हो, मिडिल क्लास का हो, लोअर मिडिल क्लास का हो, चाहे...

हेल्थ3 weeks ago

संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में 362 बेड्स के ट्रॉमा सेंटर का शिलान्यास

नई दिल्ली, ब्लिट्ज ब्यूरो। दिल्ली की स्वास्थ्य सेवाओं में को विस्तार देते हुए मंगोलपुरी में संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में...

हेल्थ3 months ago

बरसात में आंखों में जलन को न करें नजरंदाज, कंजंक्टिवाइटिस के हो सकते हैं लक्षण

गर्मी एवं बरसात के मौसम में आंखों में इंफेक्शन का खतरा काफी बढ़ जाता है। इस मौसम में कंजंक्टिवाइटिस जैसी...

हेल्थ3 months ago

सेहतमंद एवं स्थायी जीवनशैली जीने के लिए बादाम को करें आहार में शामिल!

नई दिल्ली, ब्लिट्ज ब्यूरो। आज की तेज रफ्तार जिंदगी में एक महिला कई भूमिकाएं निभाती हैं। एक माता, एक पत्नी,...

हेल्थ3 months ago

एतिहाद की निजी पहल से बच्चों ने सीखे स्वादिष्ट भोजन बनाने के गुर

काठमांडू, ब्लिट्ज ब्यूरो। अज़ीज़िया मदरसा के बच्चों ने एक स्वादिष्ट सुबह का आनंद लिया क्योंकि उन्होंने उन्हें जीवन भर पकाने...

दुनिया

दुनिया4 weeks ago

आखिर कौन है Greta Thunberg? डोनाल्ड ट्रंप को घूरते हुए Video हो रहा वायरल

नई दिल्ली: 16 साल की बच्ची पर्यावरणविद् ग्रेटा थुनबर्ग (Greta Thunberg) जिसने अमेरिका में आयोजित हुए संयुक्त राष्ट्र के उच्चस्तरीय जलवायु...

दुनिया1 month ago

जापानी फिल्म महोत्सव का आयोजन

नई दिल्ली, ब्लिट्ज ब्यूरो। भारत में तीसरे जापानी फिल्म फेस्टिवल (जेएफएफ इंडिया) के लांचिंग इवेंट में जापान फाउंडेशन के महानिदेशक...

दुनिया2 months ago

कल कश्मीर मुद्दे पर UNSC में बंद कमरे में होगी चर्चा

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (United Nations Security Council) जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) से विशेष दर्जा वापस लेने के भारत के...

दुनिया2 months ago

UNSC में पाकिस्तान के पत्र पर चर्चा के लिए चीन ने बुलाई अनौपचारिक बैठक

जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के खिलाफ पाकिस्तान की चिट्ठी पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में कोई...

दुनिया2 months ago

धारा 370 हटने से पाक में खलबली, व्यापारिक रिश्ते खत्म, भारतीय उच्चायुक्त को जाने का आदेश

इस्लामाबाद, एजेंसी। भारत द्वारा धारा 370 खत्म किए जाने के बाद से पाकिस्तान में बौखलाहट है। इस बौखलाहट का नतीजा...

बिहार

बिहार1 month ago

ऑटो उत्पाद पर टैक्स कम करने के लिए बिहार तैयार नहीं!

पटना, ब्लिट्ज ब्यूरो। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि ऑटो सेक्टर में जीएसटी के अंतर्गत लगने वाले...

एक्सक्लूसिव2 months ago

…बिहार कांग्रेस से मदन की छुट्टी तय, प्रभारी भी बदलेंगे !

नई दिल्ली। बिहार कांग्रेस में घमासान मचा हुआ है। सोशल मीडिया पर बिहार कांग्रेस के छुटभैये नेताओं और कार्यकर्ताओं की...

बिहार2 months ago

केंपा फंड के 47,436 करोड़ में बिहार को 522.95 करोड़ का स्वीकृति पत्र 

नई दिल्ली, ब्लिट्ज ब्यूरो। वन भूमि के इत्तर उपयोग के एवज में विगत 12 वर्षों से केंद्र के केंपा फंड...

बिहार2 months ago

नदियों के अंतर्योजन पर विशेष समिति की बैठक में नदी-जोड़ योजनाओं पर विशेष चर्चा

नई दिल्ली। ब्लिट्ज ब्यूरो। दिल्ली के विज्ञान भवन में केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की अध्यक्षता में नदियों...

%d bloggers like this: